15+ अंगूर खाने के फायदे – 15+ Benefits of Grapes in Hindi

15+ अंगूर खाने के फायदे – 15+ Benefits of Grapes in Hindi : नमस्कार दोस्तों, आपको स्वागत है हमारे इस Blog पर, जहापर आज हम आपको बताएँगे — “15+ अंगूर खाने के फायदे –

15+ Benefits of Grapes in Hindi”।अंगूर की खेती हज़ारों सालों की जा रही है। इसमें कई प्राचीन सभ्यताएं भी शामिल हैं,

जो wine बनाने में इनका उपयोग करती थीं। इसके अलावा अंगूर न सिर्फ एक स्वादिष्ट फल है, बल्कि इससे आसान और मज़ेदार स्नैक्स भी तैयार किए जा सकते हैं।

बाज़ार में ये कई रंगों में देखे जाते हैं- हरे, लाल, काले, पीले और पिंक। इसके अलावा अंगूर कई रूप में भी उपलब्ध होता है,

जैसे किशमिश, जेली, जूस आदि। यहां तक कि आपको बिना बीज और बीज वाले अंगूर भी मिल जाएंगे। आजके Article पर आप जानेंगे — 15+ अंगूर खाने के फायदे – 15+ Benefits of Grapes in Hindi.

15+ अंगूर खाने के फायदे – 15+ Benefits of Grapes in Hindi

अंगूर खाने के फायदे

अंगूर एक ऐसा फल है जिसे हर कोई खाना पसंद करता है क्योंकि इसे न छीलने कि झंझट न काटने की।

अंगूर को सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। अंगूर को कई तरह के व्यंजन में गार्निशिंग के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

बाजार में आमतौर पर दो तरह के अंगूर मिलते हैं, हल्के हरे रंग के और काले रंग के।

अंगूर का सेवन काफी लोग पसंद करते हैं. इसमें पायी जाने वाली कैलोरी, फाइबर और विटामिन सी, ई शरीर के लिए कई तरह से फायदेमंद है।

आयुर्वेद में अंगूर को सेहत का खजाना बताया गया है। हाल ही में हुई एक शोध से सामने आया है कि यदि आप अवसाद से बचना चाहते हैं तो अंगूर जरूर खाएं।

अंगूर खाने से मनोविकार कम होता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि भोजन में अंगूर को शामिल करने से मानसिक स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

तो आइए जानते है — अंगूर खाने के फायदे – Benefits of Grapes in Hindi.

15+ अंगूर खाने के फायदे ( 01 – 05)

1. एंटीबैक्टीरियल प्रभाव

हानिकारक बैक्टीरिया के कारण बीमारी और संक्रमण होने का खतरा बना रहता है। विषय से जुड़े एक शोध में जिक्र मिलता है कि कई बीमारियों में शामिल होने की वजह से बैक्टीरिया शरीर को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकता है।

खासकर उनमें, जिनमें ऑक्सीडेटिव तनाव शामिल होता है, जैसे हृदय रोग और खाद्य जनित बीमारियां। यहां लाल अंगूर के लाभ देखे जा सकते हैं

क्योंकि इसमें एंटीमाइक्रोबियल प्रभाव मौजूद होता है, जो बैक्टीरिया के प्रभाव को कम करने में मदद कर सकता है

2. माइग्रेन दूर करे

माइग्रेन की परेशानी दूर करने के लिए अंगूर एक बहुत अच्छा घरेलु उपचार है। माइग्रेन में असहनीय सर दर्द होता है

ये कई बार नींद की कमी से भी होता है। इसलिए हमें भरपूर अच्छी नींद लेनी चाहिए। इस समस्या को दूर करने के लिए आप, रोज सुबह उठकर अंगूर का 1 गिलास रस पियें. इसमें कुछ भी ना मिलाएं। रोज ऐसा करने से समस्या जल्दी दूर होगी।

3. एंटीऑक्सीडेंट के स्तर को बढ़ा देता है

अंगूर में विभिन्न प्रकार के शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट रसायन होते हैं। शोध के अनुसार , अंगूर में 1600 से अधिक लाभकारी पौधों के घटक होते हैं।

त्वचा और बीजों में एंटीऑक्सीडेंट की उच्चतम मात्रा होती है। नतीजतन, बीज या त्वचा के अर्क अंगूर के अध्ययन के थोक विषय हैं।

अंगूर में एंटीऑक्सीडेंट पौधे आधारित रसायन होते हैं। वे मुक्त कणों द्वारा उत्पन्न क्षति की मरम्मत में सहायता करते हैं, जो हानिकारक पदार्थ हैं जो आपकी कोशिकाओं में तनाव पैदा करते हैं।

4. अस्थमा के लिए

अस्थमा श्वास संबंधी एक बीमारी है, जो पर्यावरणीय एलर्जी, श्वसन संक्रमण, ठंडी हवा और कुछ दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण हो सकती है।

इस समस्या में लाल अंगूर का उपयोग लाभकारी हाे सकता है। रिसर्च के अनुसार लाल अंगूर के अल्कोहलिक अर्क में गैलिक एसिड और रेस्वेराट्रोल जैसे फेनोलिक कंपाउंड पाए जाते हैं।

इन कंपाउंड में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेटरी प्रभाव सामान्य और एलर्जी के कारण होने वाली अस्थमा की समस्या को कम करने में मददगार हो सकते हैं।

5. पाचन में फायदे

पाचन स्वास्थ्य के लिए अंगूर में मौजूद पानी और फाइबर के कई फायदे हैं। अंगूर में एक अनोखा रसायन होता है जिसे पॉलीफेनोल्स के रूप में जाना जाता है।

ये पॉलीफेनोल्स पाचन की प्रक्रिया में विशेष रूप से फायदेमंद होते हैं। वे शरीर के अंदर पोषक तत्वों के पाचन और अवशोषण को प्रभावित करके चयापचय को मजबूत करते हैं।

इसके अलावा, एक अन्य शोध में मधुमेह के कम जोखिम का उल्लेख किया गया है। अंगूर के अंदर अपेक्षाकृत उच्च चीनी सामग्री मधुमेह के लक्षणों वाले लोगों में संदेह पैदा करती है।

लेकिन हकीकत में होता इसके उलट है। अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन लोगों को अन्य फलों के अलावा अंगूर खाने की सलाह देता है।

15+ अंगूर खाने के फायदे (06 – 10)

6. दाग धब्बे मिटाए

पिम्पल से अक्सर चेहरे पर काले दाग धब्बे आ जाते है. इससे त्वचा की सुन्दरता ख़राब होती है। इसे दूर करने के लिए आप कुछ अंगूर, 1 tbsp फिटकरी, 1 tbsp नमक लें.

इन तीनों को एक फॉयल में व्रैप करके 10 min बेक करें. अब इन अंगूरों से रस निकालकर, उसे फेस में लगायें. 15 min इसे ठन्डे पानी से धो लें।

7. हड्डियों को रखे स्वस्थ

लाल अंगूर और इसके रस का सेवन हड्डियों की समस्या को कम करने के लिए किया जा सकता है।

इस विषय पर हुई रिसर्च के अनुसार, हाई सैचुरेटेड फैट युक्त भोजन का सेवन बोन मिनरल पर हानिकारक प्रभाव डाल सकता है,

जिससे हड्डियां कमजोर हो सकती हैं। वहीं, रिसर्च में इस बात का भी जिक्र किया गया कि लाल अंगूर में रेस्वेराट्रॉल मौजूद होता है।

रेसवेराट्रॉल में ओस्टियोजेनिक (हड्डी के निर्माण से जुड़ा) प्रभाव होते हैं, जो हड्डियों के स्वास्थ्य और उनकी मजबूती के लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

8. अंगूर कैंसर से लड़ता है

अन्य जामुनों की तरह, अंगूर में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। इन्हें पॉलीफेनोल्स कहा जाता है।

पॉलीफेनोल्स में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं। इनमें से एक फिनोल रेस्वेराट्रोल है। यह अंगूर की त्वचा और निकाले गए तरल में मौजूद होता है।

अध्ययनों से पता चलता है कि रेस्वेराट्रोल ट्यूमर के विकास को धीमा और रोकता है। यह कैंसर सेल गतिविधि को भी रोकता है।

यह विशेष यौगिक कई अलग-अलग प्रकार के कैंसर के लिए काम करता है। इनमें लसीका, त्वचा, बृहदान्त्र, यकृत, पेट, स्तन कैंसर और ल्यूकेमिया शामिल हैं

(लेकिन इन्हीं तक सीमित नहीं हैं)। हालांकि, शराब के रूप में लेने पर रेस्वेराट्रोल के दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। इसलिए, इसके लाभों को प्राप्त करने के लिए अंगूर का सही तरीके से सेवन करें।

9. कब्ज सें राहत

इसमें सुगर, एसिड होता है, जो कब्ज की परेशानी दूर करता है. लेकिन दस्त होने पर अंगूर का सेवन नहीं करना चाहिए.

अंगूर के रस में चुटकी भर नमक व् कालि मिर्च मिलाएं फिर पियें, कब्ज की परेशानी दूर होई।

10. अल्जाइमर की समस्या में

अल्जाइमर रोग एक तरह का ब्रेन डिसऑर्डर है, जिसमें धीरे-धीरे याद रखने और सोचने की क्षमता कम होती जाती है।

लाल अंगूर का रस काफी हद तक अल्जाइमर के प्रभाव को कम करने में मदद कर सकता है। रिसर्च से पता चलता है कि लाल अंगूरों में पॉलीफेनोलिक यौगिक जैसे कि फ्लेवोनोइड्स और रेस्वेराट्रोल पाए जाते हैं।

इन पॉलीफेनोलिक यौगिकों में पाया जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करके सीखने और याददाश्त की हानि को रोक सकता है। इससे हम यह कह सकते हैं लाल अंगूर का सेवन याददाश्त को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

15+ अंगूर खाने के फायदे (11 – 15)

11. मांसपेशियों की सहायता करता है

डेटा शोध से पता चलता है कि अंगूर के सेवन से पोटेशियम और फाइबर का सेवन बढ़ सकता है। यह खनिज आवश्यकतानुसार रक्त वाहिकाओं को आराम और अनुबंधित करने का काम करता है।

तो अगर आपकी नसें और धमनियां सही तरीके से रिलैक्स हो रही हैं, तो इसका मतलब स्वाभाविक रूप से रक्तचाप कम हो गया है।

अंगूर में जो यौगिक होते हैं उनमें लिपिड कम करने वाले गुण भी होते हैं। लिपिड पानी में अघुलनशील यौगिक होते हैं।

नतीजतन, वे शरीर में अघुलनशील तत्वों के रूप में नुकसान पहुंचाते हैं। कम लिपिड का मतलब है कि अंगूर सीवीडी या हृदय रोग के जोखिम को कम करते हैं।

उच्च पोटेशियम में मांसपेशियों के नुकसान और स्ट्रोक के कम जोखिम के संबंध हैं। यह आपकी मांसपेशियों और हड्डियों के अंदर खनिज घनत्व की रक्षा करने में भी मदद करता है।

12. आंखों के लिए

लाल अंगूर का सेवन करना आंखों की समस्या में भी फायदेमंद हो सकता है। रिसर्च में पाया गया कि ऑक्सीडेटिव डैमेज और सूजन के कारण रेटिनल डिजनरेशन (रेटिना की कोशिकाओं का नष्ट होना) की समस्या हो सकती है।

वहीं, रेटिनल डिजनरेशन की समस्या के कारण उम्र से संबंधित मैक्यूलर डिजनरेशन (नेत्र रोग, जो दृष्टि हानि का कारण बन सकता है) और रेटिनाइटिस पिगमेंटोसा (रेटिना से जुड़ी बीमारी) का जोखिम खड़ा हो सकता है।

13. बालों का झड़ना कम करे

बाल झड़ने की समस्या से आज हर लड़की परेशान है. इस समस्या को भी अंगूर दूर कर सकता है। इसके लिए आपको अंगूर को अच्छे से मसल कर पल्प बना लें.

अब इसे अपने बालों में क्रीम की तरह लगायें। कुछ देर रहने के बाद धो लें। हफ्ते में 1 बार जरुर करे, अच्छा रिजल्ट मिलेगा. इससे बाल मजबूत, व् सॉफ्ट होते है।

14. हृदय को स्वस्थ रखने में

अंगूर या फिर रेड वाइन का नियमित रूप से उपभोग करने से आप अंगूर के उत्कृष्ट हृदय स्वास्थ्य सम्बंधित लाभों का लुफ्त उठा सकते हैं।

यह ब्लड क्लॉट के खतरे को कम करता है, रक्त वाहिकाओं को पहुँचने वाली क्षति से संरक्षण प्रदान करता है और स्वस्थ रक्त-चाप बनाये रखने में सहायक है।

अंगूर में मौजूद पोटेशियम की वजह से, यह उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों को शरीर में सोडियम के प्रभाव को कम करने में मददगार है।

हृदय औषध विज्ञान के जर्नल में प्रकाशित 2009 के एक अध्ययन के मुताबिक, अंगूर की रेड वाइन का मद्यपान करने से हृदय की समस्याओं का जोखिम कम हो जाता है।

इसके अलावा, अंगूर में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी पाए जाते हैं जो सूजन को रोकने में और धमनियों के सख्त होने (atherosclerosis) और अन्य सम्बंधित खतरों को कम करने में सहायक हैं।

15. मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए

अच्छी सेहत के साथ ही मस्तिष्क को स्वस्थ रखने के लिए लाल अंगूर फायदेमंद हो सकते हैं। इस विषय पर हुई एक रिसर्च के मुताबिक, बढ़ती उम्र के साथ ही सीखने और याद रखने में परेशानियां शुरू हो सकती हैं।

अध्ययन में आगे पता चला है कि बढ़ती उम्र में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण मस्तिष्क की कार्यप्रणाली जैसे सोचने और याद करने क्षमता बाधित हो सकती है।

वहीं, रिसर्च में इस बात की भी पुष्टि हुई कि लाल अंगूर के रस में एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव होता है। एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण होने वाली मस्तिष्क कार्यप्रणाली की क्षति में सुधार करने में मददगार हो सकता है।

15+ अंगूर खाने के फायदे (16 -17)

16. डायबितिक में राहत

एक अध्ययन में कहा गया है कि अंगूर में पाया जाने वाला रेस्वेराट्रोल डायबिटिक न्यूरोपैथी को रोक सकता है ।

यह स्थिति उम्र के साथ तंत्रिका क्षति लाती है। Resveratrol तंत्रिका और प्रतिरक्षा समारोह को पुनर्स्थापित करता है। संभावित बीमारियों से लड़ने के लिए एक अधिक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली बेहतर है।

17. इम्यून सिस्टम के लिए

ओरेगन स्टेट यूनिवर्सिटी द्वारा 2013 के एक अध्ययन के मुताबिक, लाल अंगूर में पाए जाने वाला रेस्वेराट्रोल नामक यौगिक प्रतिरक्षा प्रणाली की कार्यशीलता बढ़ाने में में सक्षम हैं।

प्रतिरक्षा प्रणाली के मजबूत होने से आपका शरीर बीमारियों से कोसों दूर रहता है और उसे संक्रमण से लड़ने मदद करता है।

इसके अलावा, अंगूर विटामिन सी, लौह और विटामिन बी -6 जैसे कई पोषक तत्वों से निहित हैं जो एक स्वस्थ प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए महत्वपूर्ण हैं।

प्रतिरक्षा प्रणाली को सशक्त करने के लिए और बीमारियों से दूर रहने के लिए नियमित रूप से अंगूर, विशेष रूप से लाल अंगूर, का सेवन करें।

Note : सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

हमारा अंतिम शब्द

तो दोस्तों आसा करता हु की आपको हमारे दिया गया जानकारी (15+ अंगूर खाने के फायदे – 15+ Benefits of Grapes in Hindi) आपको पसंद आया होगा.

अगर आपको पसंद आये तो हमें नीच Comments करके बताये और अपने दोस्तों के साथ और Social Media Platforms पर Share जरूर करे. धन्यवाद!

Leave a Comment