बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है – Barmer Zila ki Kshetrafal Kitna Hai

बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है – Barmer Zila ki Kshetrafal Kitna Hai : नमस्कार दोस्तों, आपको स्वागत है हमारे इस Blog पर, जहापर आज हम आपको बताएँगे “बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है – Barmer Zila ki Kshetrafal Kitna Hai”। बाड़मेर जिला भारत के राजस्थान राज्य का एक जिला है । यह राजस्थान राज्य के पश्चिमी भाग में स्थित है जो थार रेगिस्तान का एक हिस्सा है।

बाड़मेर क्षेत्रफल के हिसाब से राजस्थान का तीसरा सबसे बड़ा जिला है और भारत का पाँचवाँ सबसे बड़ा जिला है। बाड़मेर जिला ग्रेट इंडियन डेजर्ट या थार (Thar) रेगिस्तान का हिस्सा है। क्या आप जानते है की — बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है – Barmer Zila ki Kshetrafal Kitna Hai.

बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है – Barmer Zila ki Kshetrafal Kitna Hai

बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है

बाड़मेर जिला का क्षेत्रफल लगभग 28,387 वर्ग किलोमीटर (10,960 बर्गमील) क्षेत्र में फैले इस शहर में थार रेगिस्तान का एक हिस्सा शामिल है। भारत का पांचवां सबसे बड़ा जिला और राजस्थान के बड़े क्षेत्रफल के ज़िलों में बाड़मेर का नाम गिना जाता है। बाड़मेर जिला के उत्तर में जैसलमेर तथा दक्षिण में जालोर शहर हैं।

पूर्वी सीमा पर जोधपुर और पाली तथा इसकी पश्चिमी सीमा पाकिस्तान को छू रही है। बाड़मेर ज़िले की सबसे लम्बी नदी’ लूनी नदी’ है जो कि लगभग 500 कि.मी. की लम्बी यात्रा के बाद जालोर से गुज़रते हुए, कच्छ के रण में विलीन हो जाती है। गर्मी के मौसम में यहां का तापमान 51°C से ऊपर पहुँच जाता है और सर्दियों में पारा गिरकर 0°C पर आ जाता है।

676 फुट की ऊँचाई पर बना यह क़िला प्राकृतिक पहाड़ियों से घिरा है तथा यहाँ दो महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल हैं – पहाड़ी का सबसे ऊँचा पर्वत मन्दिर, ’गढ़ मन्दिर’ जो 1383 फुट की ऊँचाई पर है और ’नागनेची माता’ मन्दिर जो 500 फुट पर है। नवरात्रा उत्सव के दौरान यहाँ मेले लगते हैं।

इसी क्षेत्र के पास बाड़मेर के पूर्व शाही परिवार का निवास स्थान है। बाड़मेर शुरू से ही ऊँट व्यापार मार्ग बना रहा है, इसी कारण शिल्प क्षेत्र में समृद्ध है। यहाँ लकड़ी की नक़्काशी का फर्नीचर, मिट्टी के पात्र, कपड़ों पर काँच की कढ़ाई का काम, और ’अजरक प्रिन्ट’ बहुतायत से किया जाता है तथा पूरे भारत में यह कला प्रसिद्ध है।

बाड़मेर के संस्थापक, परमार शासक ’बहाड़ राव’ थे, जिन्हें बाड़ राव (जूना बाड़मेर) के नाम से भी प्रसिद्ध था। 12वीं शताब्दी में यह क्षेत्र ‘मल्लानी’ के नाम से प्रसिद्ध था। बाद में परमार शासक ने एक छोटे से शहर का निर्माण किया जो वर्तमान में ‘जूना’ के नाम से पहचाना जाता है।

यह शहर बाड़मेर से 25 कि.मी. की दूरी पर है। परमार के बाद, रावत लूका-रावल मल्लिनाथ के पौत्र ने, अपने भाई रावल मंडालक की सहायता से जूना बाड़मेर मे अपना राज्य स्थापित किया। उन्होंने जूना के परमारों को हराकर, इसे अपनी राजधानी बनाया। इसके बाद उनके वंशज, रावत भीमा, जो कि एक महान योद्धा थे, ने 1552 ई. में वर्तमान शहर बाड़मेर की स्थापना की और अपनी राजधानी को बाड़मेर से जूना ले आए। उन्होंने शहर के शीर्ष पर एक छोटे क़िले का निर्माण किया जो कि ’बाड़मेर गढ़’ के नाम से जाना जाता है।

बाड़मेर जिले की भौगोलिक स्थिति

भारत के प्रसिद्ध थार मरुस्थल का एक भाग बाड़मेर जिला, राजस्थान के पश्चिम में स्थित है। जिला उत्तर में जैसलमेर जिले, दक्षिण में जालौर जिले, पूर्व में पाली और जोधपुर जिले तथा पश्चिम में पाकिस्तान से घिरा है। जिले का कुल क्षेत्रफल 28387 वर्ग किमी है। जिला उत्तरी अक्षांश 24,58’ से 26, 32’ और पूर्वी देशान्तर 70, 05’ से 72, 52’ के मध्य स्थित है।

जिले में सबसे लंबी नदी लूणी नदी है। यह जालोर के मध्यम से गुजरकर कच्छ की खाड़ी के समीप की भूमि में ही सोख ली जाती है, और इसकी कुल लंबाई 480 किमी है। विभिन्न ऋतुओं में तापमान में बदलाव काफी अधिक है। गर्मियों में तापमान 51 डिग्री सेल्सियस तक और सर्दियों में यह शून्य डिग्री सेल्सियस (32° फैरनहाइट) तक चला जाता। एक साल में औसत वर्षा केवल 277 मिमी है, और मुख्य रूप से बाड़मेर जिला एक रेगिस्तान है। फिर भी, 16 और 25 अगस्त 2006 के बीच 549 मिमी की चरम वर्षा से आई बाढ़ की वजह से कई लोग मारे गए और भारी नुकसान हुआ।

बाड़मेर जिला की प्रसिद्ध पर्यटन स्थल

बाड़मेर, राजस्थान के सबसे बड़े जिलों में से एक है। यह जिला राज्य के पश्चिम में स्थित होने की वजह से इसमें थार रेगिस्तान का एक हिस्सा भी शामिल है। यह पश्चिम में पाकिस्तान के साथ एक सीमा भी साझा करता है। आपको बता दें कि बाड़मेर राजस्थान के मजबूत इतिहास वाले क्षेत्रों में से एक है और इसके साथ ही यह अपने पर्यटन स्थलों के लिए भी काफी प्रसिद्ध है। तो आइए जानते है बाड़मेर जिला की प्रसिद्ध पर्यटन स्थल —

• बाड़मेर का किला
• खेड़
• किराड़ू
• मेवा नगर
• किराडू प्राचीन मंदिर
• बालोतरा और कानाणा
• बाड़मेर का किला
• गड़ मंदिर
• श्री नाकोड़ा जैन मंदिर
• देव सूर्य मंदिर
• विष्णु मंदिर
• रानी भटियानी मंदिर
• जूना फोर्ट और मंदिर
• चेतामणि पारसनाथ जैन मंदिर
• सफ़ेद अखाडा

FAQs

बाड़मेर जिले की साक्षरता कितनी है?
बाड़मेर जिले की साक्षरता 56.53% है।

बाड़मेर जिले में विधानसभा क्षेत्र कितने है?
बाड़मेर जिले में विधानसभा क्षेत्र 7 है।

बाड़मेर जिले में लोकसभा क्षेत्र कितने है?
बाड़मेर जिले में लोकसभा क्षेत्र 1 है।

बाड़मेर जिले की जनसँख्या कितनी है?
बाड़मेर जिले की जनसँख्या 2,603,751 है।

बाड़मेर जिले का जनसँख्या घनत्व कितना है?
बाड़मेर जिले का जनसँख्या घनत्व 92/वर्ग किमी है।

बाड़मेर जिले का लिंगानुपात कितना है?
बाड़मेर जिले का लिंगानुपात 902/1000 है।

बाड़मेर राजस्थान के किस हिस्से में स्थित है?
बाड़मेर राजस्थान के दक्षिणी पश्चिम हिस्से में स्थित है।

बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है?
बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल 28,387 वर्ग किमी है।

बाड़मेर जिले का मुख्यालय कहाँ स्थित है?
बाड़मेर जिले का मुख्यालय बाड़मेर में स्थित है।

बाड़मेर भारत के किस राज्य का एक जिला है?
बाड़मेर भारत के राजस्थान राज्य का एक जिला है।

हमारा अंतिम शब्द

तो दोस्तों आसा करता हु की आपको हमारे दिया गया जानकारी (बाड़मेर जिले का क्षेत्रफल कितना है – Barmer Zila ki Kshetrafal Kitna Hai) आपको पसंद आया होगा. अगर आपको पसंद आये तो हमें नीच Comments करके बताये और अपने दोस्तों के साथ और Social Media Platforms पर Share जरूर करे. धन्यवाद!

Leave a Comment