100+ Behavior Psychology Facts in Hindi – 100+ व्यवहार मनोविज्ञान तथ्य हिंदी में

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi – 100+ व्यवहार मनोविज्ञान तथ्य हिंदी में : नमस्कार दोस्तों, आपको स्वागत है हमारे इस Blog पर, जहापर आज हम आपको बताएँगे — “100+ Behavior Psychology Facts in Hindi – 100+ व्यवहार मनोविज्ञान तथ्य हिंदी में”। दुनिया में लोगों का व्यवहार, उनके सोचने-समझने का तरीका और उनकी गतिविधियाँ एक सी नहीं होती। हर इंसान अपने आप में अद्वितीय है। क्या अपने सोचा है कि कोई जैसा है, वैसा क्यों है? क्या ये बस यूं ही है या इसके पीछे कोई कारण है? इसलिए आज हम आपके लिए लेकर आए है — 100+ Behavior Psychology Facts in Hindi – 100+ व्यवहार मनोविज्ञान तथ्य हिंदी में।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi – 100+ व्यवहार मनोविज्ञान तथ्य हिंदी में

Behavior Psychology Facts in Hindi

मनोविज्ञान विज्ञान की वह शाखा है जिसके अंतर्गत का मन अध्ययन किया जाता है विज्ञान की शाखा के अंतर्गत किसी भी व्यक्ति के मानसिक स्थिति का पता लगाया जा सकता है यह विज्ञान की एक बहुत ही बेहतरीन शाखा है क्योंकि यदि आपको भी विज्ञान की इस मनोवैज्ञानिक शाखा का ज्ञान हो तो आप किसी भी व्यक्ति को सिर्फ देखकर ही उसकी मानसिक स्थिति के बारे में पता लगा सकते हैं कि उसके दिमाग में वर्तमान समय में क्या चल रहा है और वह क्या सोच रहा है। तो चलिए जानते है — 100+ Behavior Psychology Facts in Hindi – 100+ व्यवहार मनोविज्ञान तथ्य हिंदी में।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (01 – 10)

1. यदि आपका दोस्त या साथी आपके सामने जताता है कि वह आपकी कोई परवाह नहीं करता, तो इसका मतलब है कि या तो वह सच में आपकी परवाह नहीं करता या वह सबसे ज्यादा आपकी ही परवाह करता है।
2. मनोविज्ञान कहता है कि हमारे आंखों से आँसू तब नहीं आते जब हम किसी को खो देते है आँसू तब आते है जब हम खुद को खोकर भी किसी को पा नहीं सकते !
3. यदि आपका कोई दोस्त, रिश्तेदार या करीबी आपसे आकर ये कहे कि तुमसे कुछ पूछना है, तो उस पल अपने द्वारा हाल ही में किये गए सारे बुरे काम याद आ जाते हैं।
4. मनोविज्ञान कहता है कि अगर कोई व्यक्ति आपको इंप्रेस करने की कोशिश करता है तो इसका मतलब है कि वे पहले से ही आपसे इंप्रेस है !
5. झूठ बोलने में माहिर लोग झूठ पकड़ने में भी माहिर होते हैं. उनके सामने झूठ बोलते समय सावधान रहें।
6. साइकोलॉजी कहता है कि किसी के साथ लगातार ज्यादा देर तक बात करने से उससे अट्रैक्शन होने लगती है और इसी चीज को इस दुनिया के 80 % लोग प्यार समझने लगते हैं !
7. शादीशुदा लोगों कको कुंवारे लोग अधिक ख़ुश लगते हैं, जबकि कुंवारे लोगों को शादीशुदा।
8. जो व्यक्ति Busy रहता है वह खाली रहने वाले लोगों की तुलना में बहुत कम तनाव में रहता है इसके साथ ही वे मानसिक रुप से स्वस्थ भी रहते है क्योंकि खाली दिमाग में नेगेटिव विचार ज्यादा आते है।
9. दुनिया के 95% लोग जब भी नई पेन ख़रीदते हैं, तो सबसे पहले उससे अपना नाम लिखते हैं।
10. साइकोलॉजी के अनुसार अगर आप सोते वक्त अपना हाथ अपने दिल पर रखकर व सीधे पीठ के बल लेटकर सोते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको बहुत ही डरावने सपने आ सकते हैं !

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (11 – 20)

11. “Wrap rage” या “package rage” वह क्रोध और हताशा होती है, जब आप कोई पैकेज खोल नहीं पाते।
12. मनोविज्ञान के अनुसार औसतन आदमी अपनी पूरी जिंदगी में लगभग एक वर्ष सिर्फ औरतों को घूरने में बिता देते हैं।
13. “इरोटोमैनिया” (Erotomania) एक ऐसा मनोवैज्ञानिक विकार है जिसमें प्रभावित लोगों को महसूस होता है कि कोई मशहूर व्यक्ति उनके प्यार में पड़ा हुआ है।
14. मनोविज्ञान कहता है कि आकर्षण के नियम के अनुसार आपका विश्वास , आपकी सोच होती है , वहीं हकीकत का रूप ले लेती है इसलिए जीवन में सकारात्मक रहने का प्रयास करें, ताकि आपका जीवन खुशहाल बना रहे।
15. अरचनात्मक क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों की तुलना में लेखकों के बाइपोलर डिसऑर्डर (Bipolar Disorder) से पीड़ित होने की संभावना 121% अधिक होती है।
16. जो इंसान किसी भी बात को घुमाने में माहिर होते है वैसे इंसान मानसिक रुप से बहुत मजबूत होते हैं।
17. एक अध्ययन में पाया गया कि पानी के पास रहने से हम अधिक शांत, ख़ुश और रचनात्मक बन सकते हैं।
18. जो लड़के घर के कामों में हांथ बंटाते हैं , वे किसी भी बात को गोल – गोल घुमाने व लोगों की अपनी बातों में उलझाकर रखने में माहिर होते हैं।
19. सफ़र करने से मस्तिष्क का स्वास्थ्य अच्छा रहता है। इसलिए अधिक सफ़र करने वालों में दिल का दौरा पड़ने की संभावना और अवसाद का खतरा कम होता है।
20. साइकोलॉजी के अनुसार जो लड़कियां बहुत ज्यादा सोती है वे Directly या Indirectly किसी तकलीफ में है या अपने दिल पर लगी किसी बात से नाखुश है, और उसी बात को सोंचकर वह काफी दुखी है।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (21 – 30)

21. कपड़ों का असर मूड पर भी होता है। अच्छे कपड़े पहनने पर मूड अच्छा रहता है।
22. कोई भी व्यक्ति स्वाभाविक रूप से उन लोगों के प्रति ज्यादा आकर्षित होता है जो उनके बारे में सवाल पूछते हैं।
23. जब आप किसी प्रियजन का हाथ पकड़ते हैं, तो आपको दर्द कम महसूस होता है और आपकी चिंता कम हो जाती है।
24. साइकोलॉजी के अनुसार घर से दूर जाकर कमाने वाले लड़के खुद के लिए नहीं जी पाते क्योंकि उनके लिए उनकी अपनी जिम्मेदारियां ज्यादा मायने रखती हैं।
25. 16 से 28 वर्ष की उम्र में हुई दोस्ती के अधिक मजबूत होने और अधिक लंबे समय तक चलने की संभावना होती है।
26. मनोविज्ञान के अनुसार आप कभी भी उस चीज़ को मत छेड़िए जिसे आप सच में चाहते हो क्योंकि भले ही इंतजार करना मुश्किल है , लेकिन पछताना इससे भी खतरनाक है।
27. जो लोग अधिक बार कसम खाते हैं, वे उन लोगों की तुलना में अधिक ईमानदार होते हैं, जो ऐसा नहीं करते।
28. इस दुनिया का लगभग 80 % इंसान अपनी आत्मिक शांति के लिए अपना Opinion दूसरों पर थोपना चाहता है।
29. शोधकर्ताओं ने पाया है कि आशावाद (optimism) एक सिखाने योग्य कौशल है। इसे आप ख़ुद को भी सिखा सकते हैं।
30. जब कोई लड़का किसी लड़की के प्यार में पड़ता है, तो उसके कम से कम दो दोस्त उससे दूर हो जाते हैं।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (31 – 40)

31. एक शोध से पता चला है कि सिर्फ प्लान ‘B’ के बारे में सोचने भर से यह संभावना कम हो सकती है कि आप प्लान ‘A’ पूरा करेंगे।
32. जब कोई लड़का आपको पसंद करता है तो आप क्या चाहते हैं वह उसमें भी रुचि रखता है।
33. वैज्ञानिकों के अनुसार, मस्तिष्क रिजेक्शन को शारीरिक दर्द जैसा ही महसूस करता है।
34. साइकोलॉजी कहता है हर खुबसूरत लड़की को देखकर लड़के ये सोचते हैं काश ये मेरी गर्लफ्रेंड होती।
35. शोध में पाया गया है कि कोई महिला किसी बात को औसतन 47 घंटे और 15 मिनट तक ही गुप्त रख सकती है।
36. अगर कोई लड़का आपको पसंद करता है तो वह लड़का चुपके से आपसे आंखें मिलाने का कोई भी मौका नहीं छोड़ेगा चाहे आप किसी के साथ भी हो और वह चुपके से यह उम्मीद्कर रहा होगा की आप उससे नज़रें मिलायें।
37. बुद्धिमान व्यक्ति औसत व्यक्ति की तुलना में कम दोस्त बनाते हैं। व्यक्ति जितना होशियार होता है, वह उतना ही चयनात्मक होता है।
38. जब कोई लड़का किसी लड़की को पसंद करता है तो वह लड़का उस लड़की के आस – पास से या उसके दोस्तों से उसके बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करता है।
39. लंबे समय तक अकेले रहना आपकी सेहत के लिए उतना ही बुरा है, जितना एक दिन में 15 सिगरेट पीना।
40. अगर कोई लड़की आपसे सच्चे दिल से प्यार करती है तो वह आपके लिए किसी भी हद तक जा सकती है चाहे अपने माता – पिता से लड़ाई की क्यों न करनी पड़े।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (41 – 50)

41. एक सर्वेक्षण में पाया गया है कि 82% लोग किसी आकर्षक व्यक्ति के पास जाने में तब अधिक आत्मविश्वास महसूस करते हैं, जब उस व्यक्ति के साथ उसका कुत्ता होता है।
42. लड़कों के मुकाबले लड़कियां अधिक जिद्दी होती है इसका मुख्य कारण यह है कि लड़कियां ज्यादा इमोशनल होती है।
43. गुड मॉर्निंग और गुड नाइट टेक्स्ट मेसेज दिमाग के उस हिस्से को सक्रिय करते हैं, जो ख़ुशी के लिए ज़िम्मेदार होता है।
44. मनोविज्ञान के अनुसार एक औरत को वैसे पुरुष ज्यादा आकर्षक लगते हैं जिनको दूसरी औरत देख रही होती है या फिर देखकर मुस्कुरा रही होती है।
45. जिन लोगों में अपराध-भावना (Guilt) बहुत ज्यादा होती है, वे दूसरे लोगों के विचारों और भावनाओं को ज्यादा बेहतर तरीके से समझते हैं।
46. कई मनोवैज्ञानिक अध्ययनों के द्वारा यह पता चला है कि महिलाएं औसतन 47 घंटे और 15 मिनट से ज्यादा किसी भी सीक्रेट बात को अपने तक नहीं रख सकती हैं।
47. हर किसी को ख़ुश रखने की कोशिश करने वाले लोग अक्सर अकेलेपन के शिकार होते हैं।
48. लड़कियां आमतौर पर उस लड़के के साथ ज्यादा देर तक आँखे नहीं मिला सकती जिसे वे बहुत पसंद करती है।
49. जो व्यक्ति जितना होशियार होता है, वह उतनी ही तेजी से सोचता है और और उसकी लिखावट उतनी ही बेढंगी होती है.
50. हर लड़की चाहती है कि उसका बॉयफ्रेंड संबसे अलग हो लेकिन वह यह खुद नहीं जानती कि सबसे अलग का मतलब क्या होता है।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (51 – 60)

51. माफ़ी मांगने का मतलब यह कतई नहीं है कि आप गलत हैं और दूसरा सही. इसका मतलब यह है कि आपको अपनी “ईगो” से ज्यादा सामने वाले व्यक्ति से संबंध की परवाह है।
52. लड़कियों को अपनी तारीफ सुनना बेहद पसंद होता है।
53. भीड़ में अपनी जेब में हाथ डाल लेने वाला व्यक्ति शर्मीले स्वभाव का होता है।
54. मनोविज्ञान कहता है कि लड़कियों को सरप्राइज गिफ्ट देना बेहद पसंद होता है।
55. आपको “ना” बोलना आना चाहिए. यदि आप हर समय किसी के काम के लिए “हाँ” कहेंगे, तो वह इंसान आपकी उतनी इज्ज़त नहीं करेगा. लोग उनकी अधिक इज्ज़त करते हैं, जिनकी कुछ सीमायें होती हैं।
56. महिलाएं ऐसे लोगों की ओर खुद आकर्षित होती है जो उनके साथ बातचीत शुरू करने का प्रयास करते हैं।
57. यदि आप किसी से बात कर रहे हों और वह इंसान अपना सिर नीचे झुकाए आपकी बात सुन रहा है, तो समझ जायें कि उसे आपकी बातों में कोई रूचि नहीं है. वह तो इसलिए चुपचाप सब सुन रहा है कि कहीं आपको बुरा न लग जाये।
58. अगर किसी लड़की का पति या फिर बॉयफ्रेंड उसका हाथ पकड़ कर चले तो उन्हें बेहद अच्छा लगता है।
59. जब लोग ग्रुप में बैठकर किसी का मज़ाक उड़ा रहे हो, तब वे उस इंसान की ओर ज्यादा देखते है, जिन्हें वे अपने दिल के करीब मानते हैं।
60. मनोविज्ञान कहता है कि लड़कियों को किसी को भी सलाह देना पसंद है लेकिन उन्हें किसी से सलाह लेना बिल्कुल पसंद नहीं होता।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (61 – 70)

61. यदि कोई व्यक्ति आपके सामने किसी की चुगली करता है, तो समझ जायें कि वह कहीं और भी आपकी चुगली अवश्य करता है।
62. मनोविज्ञान के अनुसार लड़कियां अपने पहले प्यार को जिंदगी में कभी नहीं भूलती लेकिन उसके बाद में उसकी जिंदगी में कोई भी आए उन्हें भूलना उनके लिए चुटकी भर का खेल है।
63. इसी तरह लोग सच्ची बातों की तुलना में अफ़वाह पर फ़ौरन यकीन कर लेते हैं।
64. साइकोलॉजी के अनुसार ” सच्चे दिल के लड़के / लड़कियां किसी के काम को ना नही कह पाते, यदि वह किसी काम को ना कह भी देते है तो अंदर ही अंदर उन्हे खुद में बहुत बुरा महसूस होता है।
65. अकेलापन तब महसूस नहीं होता, जब आप अकेले होते हो। बल्कि तब महसूस होता है, जब कोई आपकी परवाह (care) नहीं करता।
66. जो लोग बुद्धिमान होते हैं वो अक्सर चीज़ों से बोर हो जाते है और ऐसे लोगो को बहस करना बिल्कुल भी पसन्द नही होता हैं इसी वजह से वो हर चीज़ नोटिस तो करते है लेकिन वो चुपचाप रहना ज्यादा पसंद करते है क्योंकि उनको लगता हैं कि इस बहस में पड़ना उनके समय को खराब करना है भले ही वह उस समय कुछ भी न कर रहे हो।
67. यदि कोई व्यक्ति छोटी-छोटी बात पर रो देता है, तो इसका मतलब है कि वह एक नरम दिल व्यक्ति है।
68. मनोविज्ञान के अनुसार सभी भावनात्मक दर्द लगभग 12 मिनट तक रहते हैं उससे ज्यादा देर तक दर्द को हम स्वयं ही सोच सोचकर बढ़ाते हैं।
69. कॉमेडियन या मज़ाकिया किस्म के लोग अपने जीवन में दूसरों की तुलना में कहीं ज्यादा उदास होते हैं।
70. अगर कोई सामने से आकर आपसे माफी मांग रहा है तो उसे ‘ It’s ok ‘ कहने की बजाय उसे ” Thankyou for Apologizing ” बोलें यह वाक्य उसे कंफर्टेबल महसूस कराने के साथ आपसे बातचीत करने के नए द्वार खोलेगा।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (71 – 80)

71. किसी अन्य भाषा में सोचने पर लिए गये निर्णय अधिक तर्कसंगत होते हैं।
72. एक मनोवैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार दुनिया के लगभग 68 % लोग Phantom Vibration Syndrome नामक बीमारी से ग्रसित हैं इसमें व्यक्ति को अपना फ़ोन वाईबरेट करता हुआ महसूस होता है जबकि फ़ोन असल में वाईबरेट नहीं कर रहा होता है।
73. सूर्य के प्रकाश में अधिम समय बिताने वाले लोग तनाव या अवसाद के शिकार कम होते हैं।
74. विज्ञान के अनुसार कोई भी इंसान थकने के बाद ज्यादा ईमानदार हो जाता है।
75. दुनिया के 85% लोग सोने के पहले प्लान्स के बारे सोचते हैं, जो वे अपनी ज़िंदगी में करना चाहते हैं।
76. औसत व्यक्ति अपने स्मार्टफोन को बिना वजह हर दिन 110 बार खोलता है । एक मनोवैज्ञानिक अध्ययन में पाया गया है की अगर कोई व्यक्ति फ्री बैठा है और उसके सामने कोई दूसरा व्यक्ति मोबाइल का प्रयोग कर रहा है तो 90 % चांस है कि उसका भी मन अपने मोबाइल को चेक करने के लिए आकर्षित होगा।
77. जो जितने ज्यादा ठंडे कमरे में सोता है, उसके उतने ही ज्यादा डरावने सपने आने की संभावना बढ़ जाती है।
78. साइकोलॉजी के अनुसार जो व्यक्ति प्यार में पड़ता है वह अपने काम के प्रति लापरवाह हो जाता है इसका मतलब है यह है कि उस व्यक्ति को काम में मन नहीं लगता है, वह आलसी भी हो जाता है और वह अपने काम से जी चुराने लगता है।
79. शारीरिक रूप से थक जाने पर लोग अधिक ईमानदार हो जाते हैं. यही कारण है कि देर रात बातचीत के दौरान लोग कई बातों को कबूल कर लेते हैं।
80. महिलाएं पुरुषों की तुलना में ज्यादा सपने डरावने बुरे ) देखती है । औरतों के सपने ज्यादा भावनात्मक होते है । जबकि पुरुष अपने सपने ज्यादा समय तक याद नही रख पाते है।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (81 – 90)

81. आज के दौर में तनाव का स्तर (Stress Level) कितना बढ़ गया है, इसका अंदाज़ा इस बात से लगाया जा सकता है कि हाईस्कूल के बच्चों में बेचैनी का स्तर उतना ही है, जितना 1950 के दशक के आरंभ में औसत मनोरोग रोगियों में हुआ करता था।
82. मनोविज्ञान कहता है कि जो लोग बाएं हाथ से काम करते हैं वे लोग दांए हाथ से काम करने वाले लोगों की तुलना में कम्प्यूटर गेम्स और खेलों में ज्यादा तेजी से काम करते हैं।
83. दुनिया के 68% लोग फैंटम वाइब्रेशन सिंड्रोम (Phantom Vibration Syndrome) के शिकार हैं. ‘फैंटम वाइब्रेशन सिंड्रोम’ में ऐसा महसूस होता है कि हमारा मोबाइल फोन वाईब्रेट हो रहा है, जबकि वास्तव में ऐसा नहीं हो रहा होता।
84. जो लोग अंधेरे मे सोते हैं वे लोग काफी आत्मविश्वासी होते हैं और इन्हें अपने काम से बहुत प्रेम होता है । इन्हे किसी भी काम में देरी बिल्कल पसंद नहीं होती।
85. यदि आप अपने पसंदीदा गीत का अलार्म बना लें, तो कुछ दिनों में आप उसे नापसंद करने लगेंगे।
86. साइकोलॉजी के अनुसार ऐसे लोग जो दूसरों की बातों पर जल्दी भरोसा कर लेते हैं , उन लोगों का हृदय काफी कोमल होता है , हुए अपने जीवन में बड़े फैसले नही ले पाते इसके साथ ही सबसे ज्यादा धोखेबाजी भी इन्हीं के साथ होती है।
87. दुनिया के 60% लोग अपनी नकारात्मक भावना से छुटकारा पाने के लिए संगीत सुनते हैं।
88. मनोविज्ञान के अनुसार हमें सबसे ज्यादा लंबे और गहरे सपने सुबह के वक्त आते हैं और यह सपने 20 % तक हमें याद भी रह जाते हैं।
89. समूह में बात करे रहे 80% व्यक्ति शिकायतें कर रहे होते हैं।
90. मनोविज्ञान के अनुसार किसी भी कपल का ब्रेकअप तभी होता है जब उन दोनों में से किसी एक ने भी किसी तीसरे व्यक्ति से सलाह ली हो।

100+ Behavior Psychology Facts in Hindi (91 – 100)

91. लगभग 90% लोग अपने पत्र या मैसेज में वे बातें लिखते हैं, जो वे कह नहीं पाते।
92. मनोविज्ञान के अनुसार जो व्यक्ति सफेद कपड़े पहनता है उनका मन बहुत ज्यादा शांत रहता है और उसके विचार हमेशा सकारात्मक रहते हैं।
93. “तुम अब पहले जैसे नहीं रहे, बदल गए हो” कोई आपसे ये कहे, तो इसका मतलब है कि आपमें 95% वह चीज़ें बदल गई है, जो उस व्यक्ति को पसंद थी. बाकी आपमें कुछ नहीं बदला है।
94. मनोविज्ञान के अनुसार जो लोग कम पढ़ाई करते हैं उन्हें चीजें बहुत जल्दी समझ में आती है या बहुत जल्दी याद हो जाती है।
95. किसी के लिए आप अपनी फीलिंग्स जितना छुपाते हैं, वह उतनी ज्यादा बढ़ती जाती है।
96. अगर आप पहली बार कहीं नई जगह पर घूमने जाते हैं तो आप बहुत ज्यादा तरोताजा महसूस करता है और आपके अंदर एक सकारात्मक भाव पैदा होता है।
97. यकीन मानिये प्यार में पड़ने के लिए मात्र 4 मिनट ही पर्याप्त होते हैं।
98. शारीरिक मेहनत करने वाले की तुलना में दिमागी मेहनत करने वाला इंसान ज्यादा सफल होता है।
99. लोग कभी इस बात को याद नहीं रखते कि आपने उनसे क्या कहा था. वे उस बात को याद रखते हैं कि आपने उन्हें कैसा महसूस कराया था।
100. मनोविज्ञान कहता है कि जब भी आप समस्या पर फोकस करते है तो आपको समस्या ही दिखाई देता हैं और अगर आप उस समस्या को हल करने के बारे में सोचते हैं तो आपको उसमें बहुत सारी opportunity दिखाई देगी।

हमारा अंतिम शब्द

तो दोस्तों आसा करता हु की आपको हमारे दिया गया जानकारी (100+ Behavior Psychology Facts in Hindi – 100+ व्यवहार मनोविज्ञान तथ्य हिंदी में) आपको पसंद आया होगा. अगर आपको पसंद आये तो हमें नीच Comments करके बताये और अपने दोस्तों के साथ और Social Media Platforms पर Share जरूर करे. धन्यवाद!

Leave a Comment