रूस की जनसंख्या कितनी है – Russia ki Jansankhya Kitni Hai

रूस की जनसंख्या कितनी है – Russia ki Jansankhya Kitni Hai : नमस्कार दोस्तों, आपको स्वागत है हमारे इस Blog पर, जहापर आज हम आपको बताएँगे “रूस की जनसंख्या कितनी है – Russia ki Jansankhya Kitni Hai”। आपको बता दे क्षेत्रफल की दृष्टि से रूस दुनिया का सबसे बड़ा देश है इस का कुल क्षेत्रफल 17,098,246 वर्ग किलोमीटर है। लेकिन रूस की जनसंख्या अन्य देशों के मुताबिक बेहद कम है। यह इतनी कम है कि भारत के राज्य उत्तर प्रदेश की आबादी भी इस देश की जनसंख्या से अधिक है।जनसंख्या की दृष्टि से रूस दुनिया के 10 सबसे बड़े देशों में नौवें स्थान पर आता है।

2022 में रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने जब से यूक्रेन देश पर अटैक किया तब से लोगो में Russia के बारे में जानने की इच्छा काफी बढ़ी है। खासकर रूस की आबादी कितनी है? इस देश में हिंदी मुस्लिम ईसाई धर्म के लोग कितने रहते है और रूस की सैन्य शक्ति कितनी है? ऐसे कुछ आम सवाल लोगो द्वारा काफी पूछे जाने लगे है।

रूस पूर्वी यूरोप और उत्तरी एशिया महाद्वीप में फैला हुआ एक बहुत बड़ा देश है। पर रस्सिया दुनिया के ऐसे कुछ देशो में आता है जिनकी जनसंख्या पिछले कुछ सालो में या तो घटी है या फिर स्थिर है। रूस की जनसंख्या कम होने या तेज़ी से ना बढ़ने के कई कारण है।

रूस की जनसंख्या अन्य देशों की तरह नहीं बढ़ रही है, इसके पीछे बहुत से कारण है। आपको बता दे कि पहले ब्राज़ील देश की जनसंख्या रूस से कम थी लेकिन वर्तमान समय में रूस की जनसंख्या कम है। अब रूस की जनसंख्या बढ़ने की जगह पर घटती जा रही है।2010 की अधिकारिक जनगणना की रिपोर्ट के मुताबिक रूस की जनसंख्या 148.8 मिलियन थी। लेकिन 2011-12 की रिपोर्ट के मुताबिक रूस की जनसंख्या 138.7 मिलीयन हो गई। तो आइए जानते हैं वर्तमान समय में — रूस की जनसंख्या कितनी है – Russia ki Jansankhya Kitni Hai.

रूस की जनसंख्या कितनी है – Russia ki Jansankhya Kitni Hai

रूस की जनसंख्या कितनी है

रूस देश जो एक समय में सोवियत समाजवादी गणराज्य संघ (U.S.S.R) का अहम हिस्सा हुआ करता था आज अमेरिका और चाइना के साथ दुनिया के सबसे शक्तिशाली देशो में आता है। रूस सन 1991 में सोवियत संघ से अलग होकर एक स्वतंत्र देश बना था, उसी समय यूक्रेन भी सोवियत संघ से अलग हुआ था। क्षेत्रफल के हिसाब से Russia दुनिया का सबसे बड़ा देश है। पर रूस की जनसंख्या की बात की जाए तो वो क्षेत्रफल की तुलना में काफी कम है।

Russia को Russian Federation के नाम से भी जाना जाता है। रूस जनसँख्या के हिसाब से दुनिया का 9वा सबसे बड़ा देश है वही आकार की बात की जाए तो रस्सिया दुनिया का सबसे बड़ा देश है। रूस का कुल क्षेत्रफल लगभग 17,098,246 वर्ग किलोमीटर है। 2022 में इस समय रूस की कुल जनसँख्या अनुमानित जनसंख्या 143,928,867 (143.90 Million) है। जो दुनिया की कुल जनसंख्या का 1.87% बनता है। देश की कुल आबादी का लगभग 73% हिस्सा शहरी लोगो का है।

रूस की कुल आबादी का लगभग 77 % भाग रूस के पश्चिमी भागों के शहरों में रहता है। रूस की सबसे अधिक आबादी वाला शहर रूस की राजधानी Moscow है। यहां लगभग 12.1 Million लोग रहते हैं। इतनी बड़ी आबादी के साथ Moscow विश्व का 11वां सबसे बड़ा शहर है। Moscow के अलावा Saint Petersburg, Yekaterinburg, Novosibirsk और Nizhniy Novgorod रूस के अब्दे शहरो के नाम है

एक नजर में रूस जनसंख्या :

  • देश — रूस (Russia)
  • स्थिति — पूर्वी यूरोप और उत्तरी एशिया
  • सतंत्र — 1991
  • राजधानी — मोस्को
  • राष्ट्रपति — व्लादिमीर पुतिन
  • क्षेत्रफल — 17,125,191 किमी²
  • मुद्रा — रूबल
  • वर्तमान जनसंख्या — 146,055,500
  • वर्तमान पुरुष जनसंख्या (46.3%) — 67,649,069
  • वर्तमान महिला जनसंख्या (53.7%) — 78,406,431

रूस का जनसंख्या घनत्व कितनी है

रूस की आबादी 142 मिलियन से अधिक है, जो इसे दुनिया का नौवां सबसे अधिक आबादी वाला देश बनाता है। रूस भी बहुत कम आबादी वाला है, जिसका जनसंख्या घनत्व केवल 8 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है। यह कम जनसंख्या घनत्व रूस के बड़े आकार और इसकी कठोर जलवायु के कारण है।

अधिकांश रूसी देश के यूरोपीय भाग में रहते हैं, जिसका जनसंख्या घनत्व लगभग 140 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है। रूसी सुदूर पूर्व, जो 11 समय क्षेत्रों में फैला है, का जनसंख्या घनत्व केवल 2 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है।

रूस में प्रजनन दर कितनी है

रूस की कुल प्रजनन दर 1.6 जन्म प्रति महिला कम है; संख्या प्रत्येक रूसी महिला के अपने जीवनकाल में बच्चों की संख्या का प्रतिनिधित्व करती है। तुलना के लिए, पूरे विश्व की प्रजनन दर 2.4 है; अमेरिका में दर 1.8 है। एक स्थिर जनसंख्या को बनाए रखने के लिए एक प्रतिस्थापन कुल प्रजनन दर प्रति महिला 2.1 जन्म है। जाहिर है, इतनी कम कुल प्रजनन दर के साथ रूसी महिलाएं घटती आबादी में योगदान दे रही हैं।

रूस किस धर्म के लोग रहते है

रूस की जनसंख्या विश्व जनसंख्या का केवल 1.87 प्रतिशत है। 2019 के अनुमानित जनसंख्या के हिसाब से यहां की जनसंख्या वृद्धि दर में 0.05 प्रतिशत की कमी देखने को मिली है। धार्मिक आधार पर रूस के जनसंख्या की बात करें तो यहां की कुल जनसंख्या में 42.5 प्रतिशत Orthodox Christianity को मानने वाले है। इसके अलावा 4.1 प्रतिशत ऐसे क्रिश्चियन हैं जिनका संबन्ध क्रिश्चियन धर्म के किसी खास संगठन से नहीं है। 0.5 प्रतिशत अन्य तरह के क्रिश्चियन है।

25 प्रतिशत लोग आध्यात्मिक हैं लेकिन इनका संबन्ध किसी भी धर्म से नहीं है। 13 प्रतिशत लोग नास्तिक हैं। 6.5 प्रतिशत मुस्लिम, Pagans 1.3 प्रतिशत, बौद्ध 0.5 प्रतिशत, 1.1 प्रतिशत अलग अलग धर्म तथा 5.5 प्रतिशत ऐसे हैं जिनके धर्म का कोई पता नहीं है।

रूस में हिन्दू की जनसंख्या कितनी है

रूस में सबसे बड़ा धर्म पारंपरिक रूसी ईसाई धर्म है, जबकि दूसरा सबसे बड़ा धर्म इस्लाम है। 2012 की आधिकारिक जनगणना के अनुसार, रूस में हिन्दू की जनसंख्या 140,000 थी, जो कुल जनसंख्या का 0.1% है। रूस में हिन्दू धार्मिक संगठन इस्कॉन के अनुयायियी की संख्या काफी है, जिन्हे हरे कृष्णा भी कहा जाता है।

विश्व के सबसे विशाल क्षेत्रफल वाले रुस की जनसंख्या इतनी कम क्यूं है?

ये प्रश्न आपके मने मे भी आया होगा कि, विश्व के सबसे विशाल क्षेत्रफाल वाले रुस की जनसंख्या इतनी कम क्यूं है तो हम आपको यहां पर कुछ बिंदुओँ की मदद से बताते है कि, रुस की इतनी कम जनसंख्या क पीछे आखिर वजह क्या है जो कि, इस प्रकार से हैं –

1. अत्यधिक मृत्यु दर

आपको जानकर हैरानी होगी कि, विश्व महाशक्ति कहने वाले इस देश अर्थात् रुस में मृत्यु दर अत्यधिक है जिसे आप ऐसे समझ सकते है कि, रुस में प्रत्येक साल 1000 व्यक्तियो में से 13.4 लोगो की मृत्यु प्रत्येक साल होती है जिसकी वजह से यहां की जनसंख्या अत्यधिक कम है और लगातार घट रही है।

2. रुसी महिलाओं की अत्यधिक गर्भपाती की प्रवृत्ति

हम आपको बताना चाहते है कि, रुसी महिलाओं में गर्भपात की अत्यधिक प्रवृत्ति पाई जाती है जिसे आप समझने के लिए ऐसे समझ सकते है कि, प्रति 1000 गर्भवती महिलाओं में से 480 महिलायें गर्भपात करवाती है जो कि, ना केवल रुस की जनसंख्या को कम करता है बल्कि गर्भपात के दौरान होने वाली गर्भवती महिलाओं की मृत्यु दर को भी बढ़ा देता है।

3. जन्म दर का आशा से भी कम होना

जैसा कि, हमने आपको बताया कि रुसी जनता में शऱाब के सेवन की लत खतरनाक स्तर तक पाई जाती है और शराब के सेवन की वजह से कमजोर हो चुके मानसिक व शारीरिक स्थिति की वजह से महिलाओं में बच्चा जनने के प्रति अरुचि पाई जाती है जिसका अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि, रुसी महिलाओं द्धारा पूरे साल में केवल 1.6 प्रतिशत बच्चो को ही जन्म दिय़ा जाता है जो कि, इसे जनसंख्या के मामले में अन्य देशो से पीछे धकेल देता है।

4. महिलाओं के मुकाबले पुरुषो की कम जीवन प्रत्याशा

रुस की कम जनसंख्या होने की एक मुख्य वजह यह भी है कि, रुस में महिलाओं की जीवन प्रत्याता लगभग (पूरी जीवन अवधि) 77 साल के आस – पास पाई जाती है जबकि पुरुषो की जीवन प्रत्याशा केवल 66 साल ही पाई जाती है जो कि, रुसी जनसंख्या के कम होने के मुख्य कारणो में शुमार की जाती है।

5. भारी मात्रा में रुसी नागरिको द्धारा शराब का सेवन करना

वहीं दूसरी तरफ हम आपको, बताना चाहते है कि, रुस में पुरुषो द्धारा भारी मात्रा में शराब का सेवन किया जाता है जिसकी वजह से उनकी मृत्यु, अपेक्षित आयु से पहले ही हो जाती है जो कि, रुस की जनसंख्या को घटाने में प्रमुख कारक सिद्ध होता है।

FAQs

रूस में सबसे ज्यादा जनसंख्या किस शहर की है।
रूस में सबसे ज्यादा जनसंख्या मोस्को की है।

रूस में सबसे ज्यादा कौन सा धर्म है?
रूस का सबसे बड़ा धर्म ईसाई धर्म है।

रूस की जनसंख्या कितनी है ?
रूस की जनसंख्या लगभग 14.41 करोड़ है।

रूस में मुस्लिम की आबादी कितनी है?
रूस में में मुस्लिमों की कुल जनसंख्या का 9,400,000 या 6.5% है।

रूस की राजधानी क्या है?
रूस की राजधानी मॉस्को है।

रूस का मुख्य धर्म क्या है?
रूस का मुख्य धर्म रूसी पारम्परिक ईसाई (Russian Orthodox Church) है। यह एक ईसाई समुदाय का नाम है।

रूस की जनसंख्या कम क्यों है?
रूसी जनसंख्या कम होने के कई कारण हैं जैसे उच्च मृत्यु दर, कम जन्म दर, गर्भपात और आप्रवासन है।

हमारा अंतिम शब्द

तो दोस्तों आसा करता हु की आपको हमारे दिया गया जानकारी (रूस की जनसंख्या कितनी है – Russia ki Jansankhya Kitni Hai) आपको पसंद आया होगा. अगर आपको पसंद आये तो हमें नीच Comments करके बताये और अपने दोस्तों के साथ और Social Media Platforms पर Share जरूर करे. धन्यवाद!

1 thought on “रूस की जनसंख्या कितनी है – Russia ki Jansankhya Kitni Hai”

Leave a Comment