पुरे विश्व की जनसंख्या कितनी है – World Population in Hindi 2023

पुरे विश्व की जनसंख्या कितनी है – World Population in Hindi 2023 : नमस्कार दोस्तों, आपको स्वागत है हमारे इस Blog पर, जहापर आज हम आपको बताएँगे — “पुरे विश्व की जनसंख्या कितनी है – World Population in Hindi 2023″।

हमारे धरती सौर मण्डल में सूर्य से तीसरा ग्रह है और एकमात्र खगोलीय वस्तु है जो जीवन को आश्रय देने के लिए जाना जाता है।

इसकी सतह का 71% भाग जल से तथा 29% भाग भूमि से ढका हुआ है। इसकी सतह विभिन्न प्लेटों से बनी हुए है।

इस पर जल तीनो अवस्थाओं में पाया जाता है। इसके दोनों ध्रुवों पर बर्फ की एक मोटी परत है। हमारे धरती ऐसा एकमात्र ग्रह है, जहाँ इंसान रहते है।

पुरे विश्व मे 7 महाद्वीप है जिसमें दुनिया के 245 से अधिक देश हैं परन्तु वर्तमान समय में दुनिया में 195 देश हैं

जिनमें सें 193 देश सदस्य संयुक्त राष्ट्र के सदस्य हैं जिन्हें अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त है जबकि ताइवान, फिलिस्तान व होली सी को सम्मिलित नहीं किया गया है।

आज के Article पर आप जानेंगे — पुरे विश्व की जनसंख्या कितनी है – World Population in Hindi 2023.

पुरे विश्व की जनसंख्या कितनी है – World Population in Hindi 2023

पुरे विश्व की जनसंख्या कितनी है

UNFPA की जारी रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया की आबादी नवंबर 2022 के बीच तक 8 अरब तक पहुंच जाएगी।

दुनिया की कुल आबादी अभी 7 अरब 95 करोड़ 40 लाख है। इसमें 65% लोग 15 से 64 साल की उम्र के हैं,

जबकि 65 साल से ऊपर वाले 10% और 14 साल से कम उम्र के लोग 25% हैं। UN के 2022 तक के आंकड़ों के मुताबिक, भारत की आबादी 1 अरब 38 करोड़ 4 हजार 385 (1,380,004,385 ) है।

हालांकि, रिपोर्ट में अच्‍छी बात ये कही गई है कि 1950 के बाद दुनिया की आबादी सबसे कम दर से बढ़ रही है।

20 वीं सदी में विश्व की जनसंख्या में 4.4 अरब की वृद्धि हुई थी और 1930 में विश्व जनसंख्या बढ़कर दोगुना हो गयी।

अर्थात् दो अरब होने में इसे 130 वर्ष लगे, जबकि अगले 30 वर्षों में (1960) ही यह 3 अरब हो गयी।

यह केवल 14 वर्षों में (1974 में) 4 अरब हो गयी। इस 4 अरब में एक अरब जोड़ने से 13 वर्ष (1987) लगे। अगले 12 वर्षों में (1999 में) विश्व जनसंख्या 6 अरब की सीमा को पार कर गयी।

31 October 2011 की जनगणना के अनुसार पूरे विश्व की जनसंख्या 700.29 billion (करोड़) थी। और ये जनसंख्या अप्रैल 2019 तक बड़ कर 7.78 बिलियन हो गई।

वर्तमान समय की बात करे तो worldometer के अनुसार 2022 में विश्व की जनसंख्या 7.9 बिलियन है

यानी 700.9 करोड़ और ये हर समय बड़ती जा रही है। आपको बता दे की पूरी दुनिया की आबादी को 1 बिलियन तक पहुंचने में 200,000 साल का समय लगा था

जबकी 7 बिलियन तक पहुँचने के लिए केवल 200 साल अधिक का समय लगा।

1950 के बाद से वैश्विक जनसंख्या सबसे धीमी गति से बढ़ रही है। 2020 में जनसंख्या वृद्धि दर एक प्रतिशत से कम हो गई है।

संयुक्त राष्ट्र के ताजा अनुमानों के अनुसार दुनिया की जनसंख्या 2030 में लगभग 8.5 अरब और 2050 में 9.7 अरब हो जाएगी।

2080 तक इसके लगभग 10.4 अरब के शिखर तक पहुंचने का अनुमान है।

दुजनसंख्या के आधार पर विश्व के 20 सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले देशों के नाम

विश्व का सबसे ज्यादा संख्या वाला देश चीन है। जबकि दूसरा स्थान भारत का है। विश्व का 17.9 प्रतिशत लोग भारत में रहते हैं।

पाकिस्तान का पांचवा स्थान है। बांग्लादेश का स्थान आठवां है जो कि दोनों ही देश कभी भारत का हिस्सा हुआ करता था। यह डाटा मार्च 2020 का है।

1. चीन – 1,437,917,113
2. भारत – 1,376,546,884
3. USA – 330,510,279
4. इंडोनेशिया – 272,785,917
5. पाकिस्तान – 219,787,148
6. ब्राजील – 212,175,579
7. नाइजीरिया – 204,814,780
8. बांग्लादेश – 164,271,198
9. रूस – 145,918,688
10. मेक्सिको – 128,587,280
11. जापान – 126,573,670
12. इथियोपिया – 114,225,205
13. फिलीपींस – 109,207,909
14. मिस्र – 101,837,386
15. वियतनाम – 97,115,606
16. डी।आर। कांगो – 88,850,620
17. तुर्की – 84,107,549
18. जर्मनी – 83,716,192
19. ईरान – 83,718,045
20. थाईलैंड – 69,755,720

2022 में दुनिया के दो सबसे अधिक आबादी वाले क्षेत्र पूर्वी और दक्षिण-पूर्वी एशिया हैं। इनमें 2.3 अरब लोग रहते हैं।

ये वैश्विक आबादी के 29 फीसदी हैं। वहीं, मध्य और दक्षिण एशिया में 2.1 अरब आबादी रहती है।

यह विश्व की कुल जनसंख्या की 26 फीसदी है। 2022 में भारत और चीन की आबादी 1.4 अरब से अधिक है। ये दोनों देश विश्व में सर्वाधिक आबादी वाले देशों में शामिल हैं।

विश्व के जनसंख्या की घनत्व कितनी है

विश्व का जनसंख्या घनत्व 51 ब्यक्ति प्रति बर्गकिमी है। 200 और उससे अधिक व्यक्ति प्रति वर्ग किमी वाले क्षेत्रो को उच्च जनसंख्या घनत्व वाले क्षेत्र कहा जाता है।

इसके अंतर्गत USA उत्तरी पर्वी क्षेत्र, दक्षिण पूर्वी एशिया एवं पूर्वी एशिया (भारत, चीन, इंडोनेशिया, पाकिस्तान, बंगलादेश, जापान, सिंगापूर आदि)

और तीसरा क्षेत्र यूरोप का उत्तर पश्चिम भाग (ब्रिटेन, नीदरलैंड, बेल्जियम, हॉलैंड, डेनमार्क, उत्तरी फ्रांस, जर्मनी आदि सम्मिलित है। )शामिल है।

इन क्षेत्रो मे कुछ ऐसे क्षेत्र भी है। जहाँ 400 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी से अधिक पाया जाता है। जैसे: सिंधु, गंगा, ब्रह्मपुत्र नदी घाटी क्षेत्र, यांग्त्सीक्यांग, ह्वांगहो, सिक्यांग, मिनाम, मीकांग नदी घाटियों मे , अमेरिका, जापान, चीन, भारत, फ्रांस, बेल्जियम, नीदरलैंड,डेनमार्क, जर्मनी आदि के औद्योगिक पेटियों मे।

जनसंख्या घनत्व के मामले में भारत का सातवां स्थान है। भारत का जनसंख्या घनत्व 464 बर्गकिमी है।

चीन का जनसंख्या घनत्व मात्र 145 बर्गकिमी है। जबकि चीन में दुनिया का सबसे ज्यादा जनसंख्या है।

कब मनाते हैं विश्व जनसंख्या दिवस

हर साल 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस (world population day 2020) मनाया जाता है.

इसका उद्देश्य जनसंख्या सम्बंधित समस्याओं पर वैश्विक चेतना जागृत करना है. विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की घोषणा सर्वप्रथम 11 जुलाई 1989 को की गई थी.

सन 1987 को जब देश की जनसंख्या का आंकड़ा करीब 5 अरब हुआ था, तो बढ़ती जनसंख्या संबंधी मामलों पर लोगों को जागरूक करने के लिए विश्व जनसंख्या दिवस को मनाने का निर्णय लिया गया.

11 जुलाई को मानाने का यह फैसला संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की आम सभा ने लिया था.

जानकारी के मुताबिक, वर्ष 1987 में 11 जुलाई को दुनिया की आबादी 5 अरब को पार कर गई थी.

दुनिया में बढ़ती जनसंख्या को देखते हुए जनसंख्या से जुड़े मुद्दे और पर्यावरण, विकास पर इसके असर को लेकर दुनियाभर के लोगों को जागरूक करने की ज़रूरत कई संगठनों को महसूस होने लगी.

इसके बाद ही इसकी शुरुआत हुई. यूनाइटेड नेशंस पॉपुलेशन फंड (UNFPA) का कहना है कि विश्व जनसंख्या दिवस को मानवीय प्रगति के जश्न के तौर पर मनाया जाना चाहिए.

लोगों को समस्या नहीं समाधान के तौर पर देखा जाना चाहिए. हर साल विश्व जनसंख्या दिवस मनाते वक्त एक थीम रखी जाती है.

इस बार विश्व जनसंख्या दिवस की थीम है, ”8 अरब लोगों की दुनिया”. इस थीम के तहत हर

किसी के लिए बेहतर भविष्य तय करने की ओर बढ़ते कदम, जहां अवसर हों, अधिकार हों और सब के पास अपनी पसंद का विकल्प हो, इस पर काम किया जाएगा.

हमारा अंतिम शब्द

तो दोस्तों आसा करता हु की आपको हमारे दिया गया जानकारी (पुरे विश्व की जनसंख्या कितनी है – World Population in Hindi 2023) आपको पसंद आया होगा.

अगर आपको पसंद आये तो हमें नीच Comments करके बताये और अपने दोस्तों के साथ और Social Media Platforms पर Share जरूर करे. धन्यवाद!

Leave a Comment