तुर्की का क्षेत्रफल कितना है – Turkey Ka Kshetrafal Kitna Hai

तुर्की का क्षेत्रफल कितना है – Turkey Ka Kshetrafal Kitna Hai : नमस्कार दोस्तों, आपको स्वागत है हमारे इस Blog पर, जहापर आज हम आपको बताएँगे — “तुर्की का क्षेत्रफल कितना है – Turkey Ka Kshetrafal Kitna Hai”। तुर्की यूरेशिया में स्थित एक देश है और दुनिया का अकेला मुस्लिम बहुमत वाला देश है जो कि धर्मनिर्पेक्ष है। तुर्की एक लोकतान्त्रिक गणराज्य है। इसके एशियाई हिस्से को अनातोलिया और यूरोपीय हिस्से को थ्रेस कहते हैं।

तुर्की का पूर्व में रूस और ईरान, दक्षिण की ओर इराक, सीरिया तथा भूमध्यसागर, पश्चिम में ग्रीस और बुल्गारिया और उत्तर में कालासागर इसकी राजनीतिक सीमा निर्धारित करते हैं। यूरोपीय टर्की – त्रिभुजाकर प्रायद्वीपी प्रदेश है जिसका शीर्षक पूर्व में बॉसपोरस के मुहाने पर है। उसके उत्तर तथा दक्षिण दोनों ओर पर्वतश्रेणियाँ फैली हुई हैं। मध्य में निचला मैदान मिलता है जिसमें होकर मारीत्सा और इरजिन नदियाँ बहती हैं। इसी भाग से होकर इस्तैस्म्यूल का संबंध पश्चिमी देशों से है। आजके इस Article पर आप जानेंगे — तुर्की का क्षेत्रफल कितना है – Turkey Ka Kshetrafal Kitna Hai.

तुर्की का क्षेत्रफल कितना है – Turkey Ka Kshetrafal Kitna Hai

तुर्की का क्षेत्रफल कितना है

तुर्की (Turkey) यूरेशिया में स्थित एक देश है। इसकी राजधानी अंकारा है। इसकी मुख्य- और राजभाषा तुर्की भाषा है। ये संसार का अकेला मुस्लिम बहुमत वाला देश है जो कि धर्मनिर्पेक्ष है। ये एक लोकतान्त्रिक गणराज्य है। इसके एशियाई भाग को अनातोलिया और यूरोपीय अंश को थ्रेस कहते हैं। तुर्की अनातोलिया (9 5%) और बाल्कन (5%),, बुल्गारिया और जॉर्जिया के बीच काला सागर के किनारे, और ग्रीस और सीरिया के बीच एजियन सागर और भूमध्य सागर के किनारे स्थित है। देश के भौगोलिक निर्देशांक इस प्राकार हैं: 39 डिग्री 00’उत्तर 35 डिग्री 00’पूर्व है।

तुर्की का क्षेत्रफल — 7,83,562 बर्गकिमी (3,02,535 वर्गमील) है। इसके भूमिभाग – 7,70,760 बर्गकिमी (2,97,592 वर्ग मील), पानी – 9,820 बर्गकिमी (3,792 वर्ग मील)। तुर्की पश्चिम से पूर्व में 1,600 किमी (994 मील) से अधिक है, लेकिन आम तौर पर उत्तर से दक्षिण में 800 किमी (497 मील) से भी कम है। कुल क्षेत्रफल (लगभग 7,83,562 बर्गकिमी (3,02,535 वर्गमील) में लगभग 7,56,816 बर्गकिमी (2,92,208) वर्गमील) पश्चिमी एशिया (अनातोलिया) में और दक्षिणपूर्वी यूरोप (थ्रेस) में लगभग 23,764 बर्गकिमी (9,175 वर्ग मील) है।

तुर्की का कुछ भाग यूरोप में तथा अधिकांश भाग एशिया महाद्वीप में पड़ता है। अत: इसे यूरोप एवं एशिया के बीच का ‘पुल’ कहा जाता है। इजीयन सागर (Aegean sea) के पतले जलखंड के बीच में आ जाने से इस पुल के दो भाग हो जाते हैं, जिन्हें साधारणतया यूरोपीय टर्की तथा एशियाई टर्की कहते हैं। टर्की के ये दोनों भाग बॉसपोरस के जलडमरूमध्य, मारमारा सागर तथा डारडनेल्ज द्वारा एक दूसरे से अलग होते हैं।

एक नजर में तुर्की के बारेमें

• क्षेत्र / स्थान — तुर्की (Turkey)
• महाद्वीप — यूरोप-एशिया
• अञ्चल — दक्षिणपूर्वी यूरोप और पश्चिमी एशिया
• राजधानी — अंकारा
• गणराज्य की घोषणा — 29 अक्टूबर 1923
• राजभाषा — तुर्की भाषा
• मुद्रा — न्यू तुर्कीश लीरा (TRY)
• भौगोलिक स्थिति — 39°00′N 35°00′E / 39.000°N 35.000°E
• क्षेत्रफल — 7,83,562 बर्गकिमी (3,02,535 वर्गमील)
• जनसंख्या — 77,844,903 (2016)
• घनत्व — 110.7 /बर्गकिमी (286.8 / बर्गमिल)
• साक्षरता दर — पुरुष: 99%, महिला: 94%
• धर्म — इसलाम
• निवासी — तुर्कीश
• सरकार — गणराज्य
• विधान मण्डल — तुर्की की ग्रैंड नेशनल असेंबली
• राष्ट्रपति — रिसेप तैयिप ईदोगान
• प्रधानमंत्री — बिन अली यलदरम
• विधानसभा अध्यक्ष — मुस्तफा सेनटोप
• सर्वोच्च बिन्दु — अरारात पर्वत (5,137 मी.)
• सर्वनिम्न बिन्दु — भूमध्य सागर (0 किमी.)
• सबसे लम्बी नदी — किज़िल नदी (1,350 किमी.)
• सबसे बड़ी झील — वां झील (3,755 बर्गकिमी)
• सबसे बड़ा शहर — इस्तांबुल

तुर्की का सीमांरेखा

तुर्की का भूमि सीमाएं — 2,627 किमी (1,632 मील) सीमा देश: ग्रीस 206 किमी (128 मील), बुल्गारिया 240 किमी (14 9 मील), जॉर्जिया 252 किमी (157 मील), आर्मेनिया 268 किमी (167 मील), नखचिवान (अज़रबैजान) 9 किमी (6 मील),ईरान 49 9 किमी (310 मील), इराक 331 किमी (206 मील), सीरिया 822 किमी (511 मील)।

तुर्की का तटरेखा — 7,200 किमी (4,474 मील) समुद्री दावा: विशेष आर्थिक क्षेत्र: केवल काला सागर में: समुद्री सीमा के लिए पूर्व यूएसएसआर क्षेत्रीय समुद्र के साथ सहमत: एजियन सागर में 6 एनएमआई (11.1 किमी; 6.9 मील); काला सागर और भूमध्य सागर में 12 एनएमआई (22.2 किमी; 13.8 मील) है।

तुर्की का भौगोलिक स्थिति कैसे है

39 डिग्री उत्तरी अक्षांश तथा 36 डिग्री पूर्वी देशान्तर। इसका कुछ भाग यूरोप में तथा अधिकांश भाग एशिया में पड़ता है अत: इसे यूरोप एवं एशिया के बीच का ‘पुल’ कहा जाता है। इजीयन सागर (Aegean sea) के पतले जलखंड के बीच में आ जाने से इस पुल के दो भाग हो जाते हैं, जिन्हें साधारणतया यूरोपीय टर्की तथा एशियाई टर्की कहते हैं। टर्की के ये दोनों भाग बॉसपोरस के जलडमरूमध्य, मारमारा सागर तथा डारडनेल्ज द्वारा एक दूसरे से अलग होते हैं।

यूरोपीय टर्की – त्रिभुजाकर प्रायद्वीपी प्रदेश है जिसका शीर्षक पूर्व में बॉसपोरस के मुहाने पर है। उसके उत्तर तथा दक्षिण दोनों ओर पर्वतश्रेणियाँ फैली हुई हैं। मध्य में निचला मैदान मिलता है जिसमें होकर मारीत्सा और इरजिन नदियाँ बहती हैं। इसी भाग से होकर इस्तैस्म्यूल का संबंध पश्चिमी देशों से है।

एशियाई टर्की – इसको हम तीन प्राकृतिक भागों में विभाजित कर सकते हैं: 1. उत्तर में काला सागर के तट पर पॉण्टस पर्वत, 2. मध्य में ऐनाटोलिया ओर आरमीनिया के निचले भाग, 3. दक्षिण में टॉरस एवं ऐंटिटॉरस पर्वत जो भूमध्यसागर के तट तक विस्तृत हैं।

दोनों समुद्रों के तट पर मैदान की पतली पट्टियाँ मिलती हैं। पश्चिम में इजीयन तथा मारमारा सागरों के तट पर अपेक्षाकृत कम ऊँची पहाड़ियाँ मिलती हैं, जिससे मध्य के पठार तक आवागमन सुगम हो जाता है। उत्तर से दक्षिण की ओर आने पर काला सागर के तट पर सँकरा मैदान मिलता है जिससे एक से लेकर दो मील तक ऊँची पॉण्टस पर्वतश्रेणियाँ एकाएक उठती हुई दृष्टिगोचर होती हैं। इन पर्वतश्रेणियों को पार करने पर ऐनाटोलिया का विस्तृत पठार मिलता है। इसके दक्षिण टॉरस की ऊँची पर्वतश्रेणियाँ फैली हुई है और दक्षिण जाने पर भूमध्यसागरीय तट का निचला मैदान मिलता है। एनाटोलिया पठार में टर्की का एक तिहाई भाग सम्मिलित है।

तुर्की का इतिहास – History of Turkey in Hindi

तुर्की के इतिहास को तुर्क जाति के इतिहास और उससे पूर्व के इतिहास के दो अध्यायों में देखा जा सकता है। सातवीं से बारहवीं सदी के बीच में मध्य एशिया से तुर्कों की कई शाखाएँ यहाँ आकर बसीं। इससे पहले यहाँ से पश्चिम में आर्य (यवन, हेलेनिक) और पूर्व में कॉकेशियाइ जातियों का बसाव रहा था।

तुर्की में ईसा के लगभग 7500 वर्ष पहले मानव बसाव के प्रमाण यहां मिले हैं। हिट्टी साम्राज्य की स्थापना 1900-1300 ईसा पूर्व में हुई थी। 1250 ईस्वी पूर्व ट्रॉय की लड़ाई में यवनों (ग्रीक) ने ट्रॉय शहर को नेस्तनाबूत कर दिया और आसपास के इलाकों पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया। 1200 ईसापूर्व से तटीय क्षेत्रों में यवनों का आगमन आरंभ हो गया। छठी सदी ईसापूर्व में फ़ारस के शाह साईरस ने अनातोलिया पर अपना अधिकार जमा लिया। इसके करीब 200 वर्षों के पश्चात 334 इस्वीपूर्व में सिकन्दर ने फ़ारसियों को हराकर इसपर अपना अधिकार किया। बाद में सिकन्दर अफ़गानिस्तान होते हुए भारत तक पहुंच गया था। इसापूर्व 129 इस्वी में अनातोलिया रोमन साम्राज्य का अंग बना।

ईसा के पचास वर्ष बाद संत पॉल ने ईसाई धर्म का प्रचार किया और सन 313 में रोमन साम्राज्य ने ईसाई धर्म को अपना लिया। इसके कुछ वर्षों के अन्दर ही कान्स्टेंटाईन साम्राज्य का अलगाव हुआ और कान्स्टेंटिनोपल इसकी राजधनी बनाई गई। छठी सदी में बिजेन्टाईन साम्राज्य अपने चरम पर था पर 200 वर्षों के भीतर मुस्लिम अरबों ने इसपर अपना अधिकार जमा लिया। बारहवी सदी में धर्मयुद्धों में फंसे रहने के बाद बिजेन्टाईन साम्राज्य का पतन आरंभ हो गया। सन 1288 में ऑटोमन साम्राज्य का उदय हुआ और सन् 1453 में कस्तुनतुनिया का पतन। इस घटना ने यूरोप में पुनर्जागरण लाने में अपना महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।

तुर्की में कितनी राज्य है

तुर्की को 81 राज्यों में बांटा गया है। इनको व्यवस्था और ख़ासकर जनगणना में सहुलियत के लिए 7 प्रदेशों में बाँटा गया है। हालांकि इन प्रदेशों का प्रशासनिक तौर पर कोई महत्व नहीं है।

तुर्की का प्रदेश उनके राज्य —

1. एजियन क्षेत्र
• अफ्योंकरहिसार
• ऐदिन
• देनिज़ली
• इज़मिर
• कुटहया
• मनिसा
• मुग्ला
• उशाक
2. भूमध्य सागरीय क्षेत्र
• अदन
• अन्ताल्या
• बुरदुर
• हताय
• (सीरिया के साथ विवदित)
• इस्पार्टा
• कड़ांमनास
• मर्सिन
• ओस्मानिये
• अदियमान
• बतमान
• दियारबकिर
• गज़ियान्तेप
• किलिस
• मर्दिन
• सनलिउर्फ़
• सीइर्त
• सिरनाक
3. • मारमरा क्षेत्र
• बालिकेसिर
• बिलेसिक
• बुरसा
• चानकले
• एदिर्ने
• इस्ताम्बुल
• किरक्लालेरी
• कोकाएली
• साकर्या
• तेकिरडाग
• येलोवा
4. पूर्वी अनातोलिया
• अग्री
• अर्दहान
• बिंगोल
• बितलिस
• एलाज़िग
• एर्ज़िंकान
• एर्ज़ुरम
• हक्कारी
• इग्दीर
• कार्स
• मलात्या
• मुस
• तुन्सेली
• वान
5. मध्य अनातोलियाई क्षेत्र
• अक्साराय
• अंकारा
• शांकिरि
• एस्किसेहर
• कारमान
• कायसेरी
• किरिक्काले
• किरसेहर
• कोन्या
• नवसेहर
• निगडे
• सिवास
• योज़्गत
6. काला सागर क्षेत्र
• अमास्या
• अर्तविन
• बेबर्त
• कोरुम
• गिरेसुन
• गुमुशाने
• ओर्दु
• रिज़े
• सम्सुन
• सिनोप
• तोकात
• त्राब्जोन
• बार्तिन
• बोलू
• दुज्के
• काराबुक
• कस्तमोनू
• ज़ोंगुलडक

2022 में तुर्की का जनसंख्या कितनी है

तुर्की पश्चिमी एशिया में सबसे अधिक आबादी वाले देशों में से एक है और दुनिया का 17वां सबसे अधिक आबादी वाला देश है। संयुक्त राष्ट्र द्वारा विश्व जनसंख्या संभावना, 2019 के अनुसार, 2021 में तुर्की की जनसंख्या 85,000,067 (85 मिलियन या 8.5 करोड़) है।

2017 में, तुर्की की जनसंख्या प्रति वर्ष 1.24% की वृद्धि दर के साथ 80.8 मिलियन होने का अनुमान लगाया गया था। जनसंख्या अपेक्षाकृत कम है, जो 0-14 आयु वर्ग में 23.6% गिर रही है। ओईसीडी / विश्व बैंक आबादी के आंकड़ों के मुताबिक, 1990 से 2008 तक तुर्की में जनसंख्या वृद्धि 16 मिलियन या 29% थी।

2020-2021 के दौरान तुर्की की जनसंख्या वृद्धि दर 0.39% है। वर्ष 2022 के मध्य में इसकी अनुमानित जनसंख्या 85,561,976 (85.56 मिलियन)* है जो विश्व की कुल जनसंख्या के 1.08 % के बराबर है । तुर्की का कुल भूमि क्षेत्र 769,632 वर्ग किमी (297,157 वर्ग मील) है और तुर्की का जनसंख्या घनत्व 110 प्रति बर्गकिमी (284 लोग प्रति बर्गमील ) है।

तुर्की का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल

प्राचीन रोमन, फ़ारसी, ग्रीक, बीजान्टिन और ओटोमन संस्कृतियों का एक पिघला हुआ बर्तन, तुर्की एक रमणीय आधुनिक देश है जिसका एक पैर एशिया में और एक यूरोप में है । कॉफी, सूखे मेवे, कालीन और बुनाई में एक अग्रणी खिलाड़ी, यह देश पिछले कुछ वर्षों में एक बहुत ही प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय अवकाश स्थल बन रहा है। इसकी विदेशी प्रकृति, इसकी मस्जिदों और मीनारों और समुद्र तटों और घाटियों के आकर्षण के साथ तुर्की को इतना असाधारण बनाती है। आपके पास तुर्की में घूमने के लिए इतने सारे पर्यटन स्थल हैं कि यदि आप पूरी तरह से देश को देखना चाहते हैं तो आपकी छुट्टी सप्ताह के अंत तक बढ़ती रहेगी। इस्तांबुल से अंकारा , इज़मिर से कप्पादोसिया , कोन्या तक _मार्डिन ; आपके पास समुद्र तट और जलडमरूमध्य और ऊबड़-खाबड़ घाटियाँ और मैदान हैं। आइए जानते है तुर्की का प्रसिद्ध पर्यटन स्थल —

• इस्तांबुल
• अंकारा
• मार्डिन
• कोन्या
• एंटाल्या
• बोडरम
• Cappadocia
• Pamukkale
• इजमिर
• डैलामैन
• तितली घाटी
• पतारा बीच
• प्रिंसेस आइलैंड
• हागिया सोफ़ी
• माउंट नेमरुत
• इफिसुस का शहर
• मिस्र का बाज़ार
• इस्तांबुल का बंदरगाह

हमारा अंतिम शब्द

तो दोस्तों आसा करता हु की आपको हमारे दिया गया जानकारी (तुर्की का क्षेत्रफल कितना है – Turkey Ka Kshetrafal Kitna Hai) आपको पसंद आया होगा. अगर आपको पसंद आये तो हमें नीच Comments करके बताये और अपने दोस्तों के साथ और Social Media Platforms पर Share जरूर करे. धन्यवाद!

1 thought on “तुर्की का क्षेत्रफल कितना है – Turkey Ka Kshetrafal Kitna Hai”

Leave a Comment